Screen Reader Access Skip to Main Content Font Size   Increase Font size Normal Font Decrease Font size
Indian Railway main logo
खोज :
Find us on Facebook   Find us on Twitter Find us on Youtube View Content in English
National Emblem of India

परिचय

यात्री तथा फ्रेट सेवा

मुंबई उप नगरीय रेल

मंडल

समाचार एवं अद्यतन

निविदाएं

हमसे संपर्क करें

प्रेस विज्ञप्ति
भर्ती
सी एम पी की नियुक्ती
अनुबंध के आधार पर अंशकालिक शिक्षकों की आवश्यकता के संबंध में अधिसूचना
नेशनल हाई स्पीड रेल कॉर्पोरेशन लिमिटेड NHSRCL के लिए प्रतिनियुक्ति के आधार पर पद भरना
अनुबंध के आधार पर चिकित्सा विभाग, मुंबई सेंट्रल डिवीजन में पैरा-मेडिकल पदों के लिए नियुक्ति के लिए वॉक-इन-इंटरव्यू
रेलवे माध्यमिक विद्यालय (अंग्रेजी माध्यम) वलसाड में अनुबंध के आधार पर अंशकालिक शिक्षकों की आवश्यकता
सर्वेक्षण और निर्माण में अनुबंध के आधार पर वन/राजस्व विभागों से सेवानिवृत्त राज्य सरकार के अधिकारियों के पुनर्नियुक्ति के लिए वाक-इन-इंटरव्यू
अपरेंटिस की नियुक्ति के संबंध में अधिसूचना
अनुबंध के आधार पर पार्ट टाइम डेंटल सर्जन की नियुक्ति
चिकित्सा सलाहकारों की नियुक्ति पर विज्ञापन
अनुबंध के आधार पर मानद विजिटिंग स्पेशलिस्ट (HVS) की नियुक्ति के संबंध में अधिसूचना
रेल भरती केंद्
रेल कौशल विकास योजना
विज्ञापन: अनुबंध मेडिकल प्रैक्टिशनर (सी.एम.पी) और अन्य
ट्रेन दुर्घटना पूछताछ रिपोर्ट
विज्ञापन
चलती ट्रेन में चढ़ने तथा उतरने का प्रयास ना करें।
यूटीएस ऑन मोबाइल ऐप
 
Bookmark Mail this page Print this page
QUICK LINKS
WR Press Release No. 2024/04 18-04-2024
Mumbai
पश्चिम रेलवे पर क्षेत्रीय राजभाषा कार्यान्वयन समिति की तिमाही बैठक सम्‍पन्‍न


पश्चिम रेलवे पर क्षेत्रीय राजभाषा

कार्यान्वयन समिति की तिमाही बैठक सम्‍पन्‍न


फोटो कैप्शनपश्चिम रेलवे के महाप्रबंधक श्री अशोक कुमार मिश्र मुंबई के चर्चगेट स्थित प्रधान कार्यालय में आयोजित क्षेत्रीय राजभाषा कार्यान्वयन समिति की बैठक को संबोधित करते हुए तथा दूसरे चित्र में सुप्रसिद्ध साहित्‍यकार माखनलाल चतुर्वेदी जी की जयंती के अवसर पर उनकी कविता की संगीतमय प्रस्‍तुति की झलकी।

 

राजभाषा बैठक की अध्यक्षता करते हुए पश्चिम रेलवे के महाप्रबंधक श्री अशोक कुमार मिश्र ने कहा कि हमें राजभाषा को दिल से स्‍वीकार करना पड़ेगा तभी हम अपना ज्‍यादा से ज्‍यादा कार्य राजभाषा में कर पाएंगे। सभी सदस्‍यों द्वारा प्रत्‍येक मद में दिए जाने वाले आंकड़ों की गहन समीक्षा की आवश्‍यकता है। ज्‍यादातर आंकड़ों में हर तिमाही में परिवर्तन नहीं दिखने से उसकी प्रमाणितकता पर प्रश्‍न-चिन्‍ह लग जाता है। श्री मिश्र ने जोर दिया कि प्रधान कार्यालय के हर विभाग, मंडलों, कारखानों को भी अपने यहां के दैनिक कार्यालयीन कार्यों को ज्‍यादा से ज्‍यादा राजभाषा में किए जाने के प्रयास करने चाहिए। निरीक्षणों के दौरान स्‍टेशनों, कारखानों में अभी भी बहुत सारे बोर्ड में केवल अंग्रेजी अथवा ऊपर अंग्रेजी नीचे हिंदी, वर्तनी की अशुद्धता देखी जाती है, इसे नियमित निरीक्षण से दूर किए जाने चाहिए।

 

बैठक के प्रारंभ में पश्चिम रेलवे के मुख्य राजभाषा अधिकारी श्री एस.के.अलबेला ने समिति के अध्यक्ष एवं पश्चिम रेलवे के महाप्रबंधक, सभी विभागों के प्रमुखों, सभी अपर मंडल रेल प्रबंधक, सभी मुख्‍य कारखाना प्रबंधक और अन्य अधिकारियों का स्वागत करते हुए कहा कि हम सभी केंद्र सरकार के कर्मी हैं और सरकारी कार्यालयों में राजभाषा में कार्य करना, हमारी संवैधानिक जिम्‍मेदारी है। पश्चिम रेलवे के रतलाम मंडल एवं वडोदरा मंडल के कुछ भागों को छोड़कर सभी मंडल क्षेत्र के अंतर्गत आते हैं। गृह मंत्रालय द्वारा हर वर्ष केंद्रीय सरकारी कार्यालयों में राजभाषा के संबंध में एक वार्षिक कार्यक्रम जारी किया जाता है, हमें उन लक्ष्‍यों को प्राप्‍त करने की पूरी कोशिश करनी चाहिए।

 

बैठक में अधिकारियों के लिए एक राजभाषा प्रश्‍न-मंच का आयोजन भी किया गया, जिसमें प्रश्‍नों के सही उत्‍तर देने वाले अधिकारियों को पुरस्‍कृत किया गया। पश्चिम रेलवे में जनवरी से मार्च-2024 के दौरान राजभाषा कार्यान्वयन में हुई प्रगति संबंधी आंकड़े समिति की सदस्य सचिव डॉ. रोशनी खुबचंदानी द्वारा प्रस्तुत किए गए।

******





  प्रशासनिक लॉगिन | साईट मैप | हमसे संपर्क करें | आरटीआई | अस्वीकरण | नियम एवं शर्तें | गोपनीयता नीति Valid CSS! Valid XHTML 1.0 Strict

© 2010  सभी अधिकार सुरक्षित

यह भारतीय रेल के पोर्टल, एक के लिए एक एकल खिड़की सूचना और सेवाओं के लिए उपयोग की जा रही विभिन्न भारतीय रेल संस्थाओं द्वारा प्रदान के उद्देश्य से विकसित की है. इस पोर्टल में सामग्री विभिन्न भारतीय रेल संस्थाओं और विभागों क्रिस, रेल मंत्रालय, भारत सरकार द्वारा बनाए रखा का एक सहयोगात्मक प्रयास का परिणाम है.